Vo Chal Diye ..

उनकी उलझने सुलझाते सुलझाते हमारी जिन्दगी उलझ गयी , वो चल दिए हमे छोड़ कर जब उनकी उलझने सुलझ गयी , हमने अपने हर  एक पल को कर दिया उनके हवाले , पर वो हमें तन्हाई के दल दल मे दफ़न कर गए , गम नहीं उनकी बेबफायी का , पर दर्द तब हुआ जब…

college days

वो पहले दिन sincere बनके क्लास मे जाना ,टीचर कि हर बात पर गौर फरमाना ,पर थोड़े ही दिनों मे line पर आ जाना ,test की रात ही किताबो को हाथ लगाना,कही से भी जाकर NOTES का जुगाड़ कराना ,वो Xerox shop की value exam वाले दिन समझ मे आना ,बन जाएगा यह सब एक…

Shairiya !

1 गमो कि महफिल मे आते है रोज़ हम , अश्को के प्याले से लब टकराते है रोज़ अब , छोड़ दिया इस मंज़र पर आकर आपने , कदम हमारे आते इस महफिल मे कब ?? 2 हर दिन को नए दिन का इंतज़ार है , बीते दिन की खामियों के लिए बीते दिन ही…

Hazaro kwaishae!

लेते है जन्म गोद मे जिनकी , छोड़ चले आये है उन्हें हम दूर , ख्वाहिशे तो हज़ारो है इस दिल मे , पर बंदिशे कर देती है मजबूर , जिनकी बाहो के झूले मे झूल कर बडे हुए , जिनकी ऊँगली पकड़ कर पहली बार खडे हुए , जिनके प्यार के सागर मे रोज़…

Kaash !!!

काश मे भी पेड होती , तो चांदनी रूपी चादर पर आराम से सोती , ओस रूपी मोती से मेरा श्रंगार होता , और वर्षा रूपी अमृत से मेरा जलपान होता , मै आकाश को चुने कि कोशिश करती , मै पाताल मे रहने कि कोशिश करती , मेरी लम्बी लम्बी बाहो पर चिडियों का…

Vo Sapna !!

जब पलक रूपी पर्दा मैंने अपनी आंखो पर गिराया , मुलाकात हुई उस सपने से जो हकीकत बनकर जिन्दगी मे आया , ना कभी सोचा था ऐसा ,ना कभी समझ पाया , वो पल था ऐसा जिसने मुझे मेरे दिल से रुलाया , करना चाहा कैद उन अश्को को अपनी निगाहो कि जेल मे ,…