Cocoon of Sorrow !

  Feels like am drowning in a cocoon of sorrow , Wish there was any happiness I could borrow !  

Kadam ruk gaye !

वक़्त कुछ थम सा गया है , पर चाह है आगे बढने की , कोई डोर खीच रही है पीछे , जाने क्यों कदम रुक गए है यही , आज भी कोशिश जारी है , इस जाल से निकलने की , अपने पंखो को खोल कर , वैसे ही आसमा में उड़ने की , अंजानी…

Ab aur nahi!!

Hi Friends, I wrote it long back.I was going through my diary pages and found this one. Thought of including it to my collection 🙂 कुछ लिखने की आस है , चंद लफ्जों की तालाश है , दिल से निकले अलफ़ाज़ य़ू , कहीं बैचैन ना करदे इस कागज़ को ? सबको राह मिल जाती…

Wonderful Sight!

This one is dedicated to my Didi and Jiju :):) One of the best couple ever ! Deep as ocean..Dark as night Stars shine bright..In the candle light Together, you make a wonderful sight !