Yeh Ishq !

One more from my old stock .. I was just going through my diary.. Found this one. Here it is. कोसते है उस इश्क को, जो अश्क बनके आता है, बेवफाई किसी और की , और सजा कोई और पाता है , पूजते है उस इश्क को, जो हमें जीना सिखलाता है, उसकी एक मुस्कान में , पूरा जहां समां जाता है, वो…

Zindagi ki Aajmaaish !!

पल दो पल की ज़िन्दगी , गहरी सोच में डूबी हुई , तमाशा बनके रह जाती है , जो हम हों जाये इसके बस में कहीं, ज़माने के सामने लगती है, हमारे दर्द की नुमाइश , भारी लगने लगती है , ज़िन्दगी की आजमाइश. गुम  हों जाते है उन रहो पर, जिसकी कोई मंजिल नहीं ,…

Kadam ruk gaye !

वक़्त कुछ थम सा गया है , पर चाह है आगे बढने की , कोई डोर खीच रही है पीछे , जाने क्यों कदम रुक गए है यही , आज भी कोशिश जारी है , इस जाल से निकलने की , अपने पंखो को खोल कर , वैसे ही आसमा में उड़ने की , अंजानी…

Teri Yaad

This one is dedicated to all those who are in true love 🙂 🙂 ..Hope  you will like it 🙂 पहली बूँद बारिश की, जब मुझको छू कर जाती है , तुझे महसूस कर सकती हूँ , तेरी बहुत याद आती है , हर दिन सूरज की किरणे , जब मुझको रोशन कर जाती है…

With you near me..

With u near me, I could feel ur breath, Lying on ur shoulder, Holding ur hands, You are the half , That made me whole, You are the one, Who has touched  my soul, With u near me, Long i could walk, Without saying a word, Could listen to silent soul talks, Never restrict urself,…

Kyu kare galatiyaan ?

दूर  जिन्हें  जाना  है , दिल  चाहे  साथ  उन्हीं  का , चंद  पलों  के  लिए  ही  सही  , पर  ये  चाहे  करीबिया, सामने  है  हमारे  फिर  भी , सहारा  है  बस  उनकी  यादो  का , कल  जब  पास  न  होंगे  वो , पीछा  करेंगी  उनकी  पर्छाइया , उन्हें  खुश  रखने  के  लिए , अपने  जज्बातों …

Adat ho gayi..

इन  आँसुओ को  भी  बहने  की  आदत  हों  गयी , नींद को भी जगने की आदत हों गयी , हर नया जख्म पहले  से  ज्यादा  गहरा  लगने  लगा , मुस्कुराहट  को  चुप  रहने  की  आदत  हों  गयी . वो  चंद  पल  खुशियों  के , दे  गए  हमे  दर्द  सदियों  का , उन  रास्तो  पर  चल  दिए  हम , जहाँ   पता  नहीं  मंजिल  का , थम  गए  है  यह  रास्ते  भी , अब  तो इन्हें  भी  रुकने  की  आदत  हों  गयी , इन आँसुओ को भी बहने की आदत हों गयी , मुस्कुराहट को चुप रहने…